19 Oct 2019, 12:53:16 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

अमेरिकी सेना ने ट्रम्प को ईरानी तेल कंपंनियों पर हमले की योजना से कराया वाकिफ

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 18 2019 12:52PM | Updated Date: Sep 18 2019 12:52PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

वाशिंगटन। अमेरिकी सेना ने सऊदी अरब के तेल संयंत्रों पर हाले के हमले में ईरान  की संलिप्पता के आरोप के बीच प्रतिकार स्वरुप ईरान की तेल कंपनियों पर हमले की कथित योजना बनायी है और इस संबंध में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को अवगत कराया है। ‘एनबीसी न्यूज ’ने अमेरिकी अधिकारियों की मंगलवार की बैठक के हवाले से आज खबर दी कि अमेरिकी सैन्य अधिकारियों ने सोमवार  को राष्ट्रीय सुरक्षा बैठक के दौरान ट्रम्प को ईरान पर हमले के लिए उठाने जाने वाले कदमों के बारे में  बताया  जिसमें खाड़ी देश पर साइबर समेत कई तरह के हमलों की योजना की जानकारी है।
 
राजनीतिक विशेषज्ञों ने हालांकि ट्रम्प के करीबी लोगों के हवाले से बताया है कि राष्ट्रपति ईरान पर हमले के खिलाफ हैं और वह किसी भी देश के संघर्ष से देश को दूर रखने के अपने चुनावी वायदों पर रहना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इसके अवाला ट्रम्प को इस बात की भी चिंता है कि ईरान से युद्ध करने पर अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान होगा। गत शनिवार को सऊदी अरब स्थित दुनिया के सबसे  बड़े तेल संयंत्रों पर हुए ड्रोन हमले का असर तेल के वैश्विक बाजार पर भी  पड़ा है।
 
अमेरिका ने इस हमले के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया है जिसका इस  खाड़ी देश ने जोरदार खंडन किया है। सऊदी अरब ने इस हमले की जांच के लिए  लिए संयुक्त राष्ट्र और अमेरिका को जांच के लिए और अंतरराष्ट्रीय जांच  विशेषज्ञों को आमंत्रित किया है। भारत ने सऊदी अरब में तेल संयंत्रों पर  हुए हमलों की सोमवार को निंदा की और हर तरह के आतंकवाद का विरोध करने के  अपने संकल्प को दोहराया। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा,‘‘  हम सऊदी अरब के अबकैक तेल संयंत्र और खुरैस तेल संयंत्रों पर 14 सितंबर  2019 को हुए हमलों की निंदा करते हैं और हम हर तरह के आतंकवाद का विरोध  करने का अपना संकल्प दोहराते हैं।’’
 
सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री अब्दुलजीज बिन सलमान  अल सउद ने मंगलवार को कहा कि पेट्रोलियम रिफाइनरी में ड्रोन हमले के बाद  पेट्रोलियम उत्पादन में आयी कमी सितंबर के अंत तक सामान्य हो जाएगी। जेद्दा  में संवाददाता सम्मेलन में श्री अब्दुलजीज ने कहा कि सऊदी इस महीने के अंत  तक पेट्रोल की आपूर्ती को सामान्य कर देगा। उन्होंने कहा कि सितंबर के अंत  तक उत्पादन क्षमता  प्रति दिन 11 मिलियन बैरल कर ली जाएगी। सऊदी  अरामको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आमीन नसीर ने कहा कि अबकैक और खुरैस में  हमले के बाद लगी आग पर काबू पाने में सात घंटे का समय लग गया था।
 
उन्होंने  कहा कि हमले के 24 घंटे बाद ही पेट्रोल का उत्पादन शुरु कर दिया गया था।  अबकैक में फिलहाल प्रतिदिन दो मिलियन बैरल तेल का उत्पादन किया जा रहा है और  इसे इसी महीने के अंत तक सामान्य कर दिया जाएगा। नासीर ने कहा, हमले के वजह से अभी तक एक भी अंतरराष्ट्रीय ग्राहक को नुकसान नहीं हुआ हैं और उनकी आपूर्ति में कमी नहीं हुई है। हमने साबित कर दिया है कि हमारा परिचालन  सही ढंग से चल रहा है। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »