18 Nov 2019, 20:05:05 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

हरियाणा में फिल्म शूटिंग के लिए सात दिन में मिलेगी मंजूरी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 9 2019 12:08AM | Updated Date: Nov 9 2019 12:08AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

सोनीपत। हरियाणा में फिल्मों की शूटिंग की मंजूरी के लिए एक पोर्टल बनाया गया है, जिस पर ऑनलाइन आवेदन करने पर सात दिन के अंदर मंजूरी मिल जायेगी। यह पोर्टल पिछले साल अक्तूबर में बनाई व कैबिनेट में मंजूर की गई नई फिल्म नीति के तहत शुरू किया गया है तथा आज सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक समीरपाल सरो ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य के सभी नगराधीश, डीआईपीआरओ तथा डीआईओ को दिशा-निर्देश जारी किए। उन्होंने बताया कि इसके लिए जिलों में नगराधीश को नोडल अधिकारी बनाया गया है तथा डीआईपीआरओ सदस्य सचिव होंगे। सभी को जल्द की यूजर आईडी दी जाएगी जिसके माध्यम से उन्हें इस प्रक्रिया को पूरा करना है।

सरो ने स्पष्ट किया कि आवेदन करने वाले को कहीं भी व्यक्तिगत रूप से हाजिर नहीं होना है। उसे केवल ऑनलाइन पीआर हरियाणा की वेबसाइट पर फिल्म सेल पर जाकर आवेदन करना है। आवेदन के सात दिन के बाद मंजूरी पत्र भी उसे ऑनलाइन ही उपलब्ध हो जाएगा। उन्होंने बताया कि आवेदन में संबंधित 18 विभागों को अपने-अपने स्तर पर ऑनलाइन ही सारी कार्यवाही करनी है। अगर कहीं मंजूरी नहीं दी जा सकती तो उसका कारण बताकर उसे रद्द किया जा सकता है लेकिन बिना कारण कोई भी आवेदन रद्द नहीं किया जा सकता। सरो ने बताया कि नई फिल्म नीति के तहत कोई फिल्म निर्माता हरियाणा की पृष्ठभूमि पर फिल्म बनाता है या हरियाणा के युवाओं को कलाकार अथवा तकनीशियनों के तौर पर लेता है तो उसे एक करोड़ से लेकर तीन करोड़ रुपये तक की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसके लिए भी इसी साइट पर आवेदन करना होगा।

उन्होंने बताया कि फिल्म नीति के बारे में विस्तृत जानकारी हरियाणा के जनसंपर्क विभाग की वेबसाइट पीआरहरियाणा डॉट जीओवी डॉट इन पर दी गई है। नीति के तहत हरियाणा फिल्म प्रमोशन बोर्ड भी बनाया गया है जिसके चेयरमैन मूल महेंद्रगढ़ जिले के निवासी फिल्म निर्माता सतीश कौशिक हैं। सरो ने बताया कि फिल्म निर्माताओं के लिए हरियाणा राज्य में लगभग 40 स्थान ऐसे हैं जो फिल्म के लिहाज से बहुत ही आकर्षक हैं और पिंजोर से लेकर नारनौल तक, सिरसा से लेकर सोनीपत तक ऐतिहासिक धरोहरों से लेकर समृद्ध सांस्कृतिक विरासत वाले प्रदेश की कोशिश होगी कि अधिक से अधिक संख्या में प्रदेश के युवाओं को फिल्म उद्योग में रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाये जा सकें। 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »