17 Sep 2019, 02:04:47 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

मोदी का चुनावी वादा का एक प्रमाण भर है चिदंबरम की गिरफ्तारी: भाजपा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Aug 22 2019 1:39AM | Updated Date: Aug 22 2019 1:39AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम की गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया देते हुए भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस बार के आम चुनाव के दौरान जो वादा किया था, यह उसका एक प्रमाण मात्र है। चिदंबरम की गिरफ्तारी के कुछ मिनट के अंदर ही भाजपा की आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें मोदी का अप्रैल 2019 का भाषण है और जिसमें वह कह रहे है,‘‘ जिन्होंने देश को लूटा है, उनको पाई-पाई लौटानी पड़ेगी।’’ मोदी ने कहा था,‘‘  कुछ लोग जमानत पर हैं, तो कुछ लोगों को कोर्ट से तारीख मिल रही हैं। मैंने भ्रष्ट लोगों को जेल भेजने का प्रबंध किया है।

एक और अवसर मिलेगा तो वे जेल के अंदर होगें।’’ उन्होंने कहा,‘‘ आप लोग वर्ष 2014 से देख रहे हैं। आप लोगों के समर्थन से मैंने ऐसे लोगों को जेल का रास्ता दिखाया है। जांच जारी है और 2019 के बाद .....’’ पूर्व वित्त मंत्री और पूर्व गृहमंत्री के रूप में गिरफ्तार होने वाले चिदंबरम पहले व्यक्ति बन गये हैं। उल्लेखनीय है कि पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम को केंद्रीय जांच ब्यूरो ने आईएनएक्स मीडिया निवेश मामले में आज देर रात गिरफ्तार कर लिया और इसके साथ ही उनकी जांच एजेंसी के साथ मंगलवार से जारी लुकाछिपी समाप्त हो गयी।

सीबीआई प्रवक्ता ने यहां बताया कि चिदम्बरम को एक सक्षम अदालत की ओर से जारी गिरफ्तारी वारंट के आधार पर  गिरफ्तार किया गया है। इस बीच सूत्रों ने बताया कि उन्हें आज रात सीबीआई मुख्यालय में ही रखा जायेगा और कल निचली अदालत में पेश किया जायेगा। सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय की गिरफ्तारी से मंगलवार से बच रहे चिदम्बरम आज रात करीब आठ बजे अचानक कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे और संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित किया।

उन्होंने कहा कि आईएनएक्स मीडिया निवेश मामले में उनके या उनके परिवार के किसी अन्य सदस्य के खिलाफ कोई आरोप पत्र दायर नहीं है। वह कानून से भाग नहीं रहे, बल्कि संरक्षण मांग रहे हैं। इसके बाद वह सीधे अपने आवास पर गये, जिसके पश्चात् सीबीआई अधिकारियों की एक टीम वहां पहुंच गयी। आवास के गेट बंद होने के कारण सीबीआई के अधिकारी दीवार फांदकर अंदर गये। पुलिस की एक टीम पिछले दरवाजे से घर के अंदर गयी। बाद में आवास का गेट खोल दिया गया। करीब दो घंटे की जद्दोजहद के बाद सीबीआई टीम ने उन्हें अपने साथ मुख्यालय ले गयी। इस दौरान उनके आवास पर कांग्रेस के नेता  एवं वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी भी मौजूद थे।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »