18 Sep 2019, 23:44:36 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

विकास के लक्ष्यों का लाभ वंचितों तक पहुंचाने के लिए हो तकनीक का प्रयोग: योगी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 11 2019 9:30AM | Updated Date: Sep 11 2019 10:27AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सतत विकास के लक्ष्यों का लाभ वंचित वर्गों तक पहुंचाने के उद्देश्य से तकनीक का प्रयोग किया जाए। मुख्यमंत्री कल शाम अपने सरकारी आवास पर सतत विकास लक्ष्य उत्तर प्रदेश विज़न-2030 के तहत लक्ष्यों के अनुसार नोडल विभागों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी नोडल विभाग तथा उनके साथ लिंक किए गए विभाग यूपी से सम्बन्धित फोकस सेक्टरों पर काम करें और इस सम्बन्ध में सभी विभाग विस्तृत रिपोर्ट एक सप्ताह के अंदर मुहैया कराएं। इस कार्य को तेजी से किया जाए, क्योंकि सभी नोडल विभागों के तहत निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए किए गए कार्यों की अद्यतन स्थिति/रिपोर्ट का प्रकाशन 20 सितम्बर तक हर हाल में किया जाना है। उन्होंने कहा कि सभी विभाग आपसी समन्वय बनाते हुए निरन्तर प्रयास करें और सम्बन्धित रिपोर्ट तैयार करें।
 
योगी ने उत्तर प्रदेश के लिए निर्धारित 16 एसडीजी लक्ष्यों, जिनमें नो पावर्टी (ग्राम्य विकास), जीरो हंगर (कृषि), गुड हेल्थ एण्ड वेल बींग (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य), क्वालिटी एजुकेशन (माध्यमिक शिक्षा), जेण्डर इक्वालिटी (महिला कल्याण), क्लीन वॉटर एण्ड सैनीटेशन एफोर्डेबल एण्ड क्लीन इनर्जी (ऊर्जा), डीसेण्ट वर्क एण्ड इकोनॉमिक ग्रोथ (सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग), इण्डस्ट्री इनोवेशन एण्ड इन्फ्रास्ट्रक्चर (औद्योगिक विकास), रिड्यूस्ड इनइक्वालिटीज (समाज कल्याण), सस्टेनेबल सिटीज एण्ड कम्युनिटीज (नगर विकास), रिस्पॉन्सिबल कन्जम्पशन एण्ड प्रोडक्शन (पर्यावरण), क्लाइमेट एक्शन (पर्यावरण), लाइफ ऑन लैण्ड (वन), पीस जस्टिस एण्ड स्ट्रॉन्ग इंस्टीट्यूशंस (गृह) तथा पार्टनरशिप्स ऑफ गोल्स (वित्त) की विस्तृत समीक्षा की।
 
उन्होंने इन एसडीजी के नोडल विभागों, जिनमें ग्राम्य विकास, कृषि, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, माध्यमिक शिक्षा, महिला कल्याण, सिंचाई, ऊर्जा, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग, औद्योगिक विकास, नगर विकास, समाज कल्याण, पर्यावरण, वन, वित्त, पंचायती राज एवं गृह सम्मिलित हैं, के अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों तथा सचिवों से उनसे सम्बन्धित लक्ष्यों को प्राप्त करने के सम्बन्ध में किए जा रहे प्रयासों/कार्यों के विषय में विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी नोडल विभाग स्वयं से लिंक्ड विभागों के साथ समन्वय स्थापित करते हुए सतत् विकास के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए परिणामपरक कार्य करें।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »