11 Dec 2018, 10:09:12 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

रात्रि विश्राम के लिए खुला जिम कार्बेट पार्क, बु‍किंग शुरू

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 21 2018 4:08PM | Updated Date: Nov 21 2018 4:08PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नैनीताल। देश के ऐतिहासिक जिम कार्बेट पार्क में आने वाले देशी और विदेशी पर्यटकों के लिये अच्छी खबर है। कार्बेट पार्क प्रशासन (सीटीआर) ने उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद कार्बेट पार्क को पर्यटकों के रात्रि विश्राम के लिए खोल दिया है जिसके कारण अब वे पहले की तरह कार्बेट पार्क में रुक कर वन्य जीवों के दीदार कर सकेंगे। 
 
गुरुवार 22 नवम्बर से वन्य जीव प्रेमी कार्बेट पार्क में रात्रि विश्राम कर सकेंगे। इसके लिये सीटीआर की ओर से बुंिकग शुरू कर दी गयी है।
सीटीआर के निदेशक राहुल ने बताया कि कार्बेट पार्क के ढिकाला सहित सभी जोन में पर्यटकों को रात्रि विश्राम की अनुमति दी गयी है। रात्रि विश्राम के लिये बुंिकग शुरू कर दी गयी है। पर्यटक आॅनलाइन बु‍किंग कर सकते हैं।
 
उन्होंने बताया कि फिलहाल पूरे सीजन भर पर्यटक यहां रात्रि विश्राम कर सकेंगे। सभी जगहों में व्यवस्थायें दुरूस्त कर दी गयी हैं। ढिकाला जोन पिछले 15 नवम्बर को ही पर्यटकों के लिये खोला गया है। राहुल ने बताया कि ढिकाला जोन में सबसे अधिक पर्यटक रात्रि विश्राम कर सकेंगे। यहां पर्यटकों के लिये 45 कमरे उपलब्ध हैं। इसके अलावा बिजरानी, ढेला, कालागढ़ और दुर्गादेवी जोन को भी पर्यटकों के रात्रि विश्राम के लिये खोला जा रहा है। इन जगहों में भी पर्यटकों के रात्रि विश्राम की अनुमति प्रदान कर दी गई है। राहुल ने बताया कि उच्चतम न्यायालय के आदेश और कानूनी विशेषज्ञों की राय के बाद सीटीआर प्रशासन की ओर से यह निर्णय लिया गया है।
 
उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय के चार सितम्बर को जारी निर्देश के बाद सीटीआर प्रशासन की ओर से कार्बेट में रात्रि विश्राम पर रोक लगा दी गई थी। इसके बाद सीटीआर की ओर से इस मामले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी गई। उच्चतम न्यायालय ने विगत 22 अक्टूबर को उच्च न्यायालय के आदेश पर रोक लगा दी थी। सीटीआर प्रबंधन की ओर से न्यायालय के आदेश पर कानूनी विशेषज्ञों की राय ली गयी और इसके बाद यह फैसला किया गया।   
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »