19 Nov 2018, 04:19:45 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

मिजोरम चुनाव : मोदी-नेतन्याहू की गहरी दोस्ती दिला सकती है बीजेपी को जीत

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 9 2018 12:53PM | Updated Date: Nov 9 2018 12:54PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

एजल/लुंगेली। मिजोरम के प्रसिद्ध ईसाई नेता एवं पूर्व मंत्री रेव एच ललरुआता लुंगलेई ईस्ट से भाजपा के उम्मीदवार के रूप में चुनावी मैदान में उतरने से भगवा पार्टी को राजनैतिक वैधता दी है। रेव ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इजरायल के समर्थन और झुकाव की वजह से ही वह भाजपा में शामिल हुए हैं। रेव ने कहा - वह भाजपा में आॅनलाइन माध्यम से शामिल हुए हैं। उन्होंने बताया कि वह मोदी के विकास के कार्यों, अमेरिका एवं इजरायल के साथ घनिष्ठ संबंधों और इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के साथ गहरी मित्रता से प्रभावित हुए हैं।
 
प्रधानमंत्री मोदी की अमेरिका एवं इजरायल समर्थित नीति से पूर्व पेंटेकोस्टल पादरी के अलावा कई लोग प्रभावित हुये हैं। एक 35 वर्षीय महिला मेरी विनचेस्टर जोलुट ने कहा, हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विश्वास करते है कि वह इजरायल के साथ संबंध बनाकर अच्छा काम कर रहे हैं। भाजपा नेता एच. लालरुआता और अन्य लोगों ने कहा कि मूल मिजो निवासी भी यह देखकर खुश है कि मोदी सरकार  कांग्रेस की विदेश नीति से अलग हटकर कर काम कर रही है जोकि कम्युनिस्ट रूस और पूर्व सोवियत संघ के करीब थी।
 
एक अन्य मिजो युवा आर. जेड. थंगजुआला(28) ने कहा," इससे पहले, कांग्रेस और अन्य पार्टियों के नेतृत्व वाली सरकार अमेरिका एवं इजरायल से दूरियां बना रखी थीं लेकिन श्री मोदी भारत-इजरायल संबंधों को मजबूत कर रहे हैं। श्री मोदी की यह छवि ईसाई समुदाय में अच्छी बनी हुई है।  मिजो-यहूदियों की एक बड़ी संख्या 'बेनई मेनाशे (जोसेफ के पुत्र)' या इजरायल के लुप्त हुयी जनजाति के वंशज होने का दावा करती है। वास्तव में, इन लोगों की संख्या कुछ हजारों में है। यहूदी धर्म को मानने वाले मिजो लोग प्रधानमंत्री मोदी के इजरायली समकक्ष नेतन्याहू के साथ दोस्ती के आधार पर भाजपा लिए श्री रेव का समर्थन करता है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »