13 Nov 2018, 08:29:00 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Health

सर्दियों में भी खूब पीएं पानी, इन बीमारियों से रहेंगे दूर

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 6 2018 10:29AM | Updated Date: Nov 6 2018 10:29AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

जल ही जीवन है। मनुष्य का शरीर जिन तत्वों से बना है, उसमें जल मुख्य घटक है। अगर शरीर में जल की मात्रा कम हो जाए, तो मनुष्य का जीवन खतरे में पड़ जाता है। गर्मियों में प्यास अधिक लगने से लोग प्रायः अधिक पानी पीते हैं मगर सर्दियों में यह मात्रा कम हो जाती है। इसकी एक वजह यही है कि हमें इन दिनों प्यास नहीं लगती। नतीजा यह कि सर्दियों में अक्सर लोग पर्याप्त पानी नहीं पीते।

प्रायः लोग यह जानना चाहते हैं कि एक मनुष्य को चौबीस घंटे में कितना पानी पीना चाहिए। यों डॉक्टर तीन से चार लीटर पानी पीने की सलाह देते हैं। दूसरी ओर स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. मधु वर्मा के अनुसार महिलाओं को अधिक मात्रा में पानी पीना चाहिए। उनके मुताबिक स्त्रियों में यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन की समस्या होती है।

इसी वजह से उनके शरीर को पानी की अधिक जरूरत होती है। कोई भी इंसान खाने के बिना कई दिनों तक रह सकता हैं, पर शरीर को पानी रोज चाहिए। शरीर के मेटाबोलिज्म, डाइजेशन और एबजॉरव्शन के लिए पानी की बेहत जरूरत होती हैं। शरीर के यूरिया, सोडियम और पोटेशियम जैसे विषैले पदार्थ को बाहर करने और तापमान सामान्य रखने के लिए भी पानी की जरूरत पड़ती है।

पानी पीना इस इस बात पर भी निर्भर करता हैं कि आपकी दिनचर्या कैसी है। अगर आप ज्यादा शारीरिक मेहनत करते हैं तो आपके शरीर को ज्यादा पानी की जरूरत है। पसीना, यूरिन अैर मेटाबोलिज्म फंक्शन के कारण शरीर में पानी की कमी होती है। इसलिए पानी ज्यादा से ज्यादा पीना जरूरी है। शरीर में पानी की कमी डिहाइड्रेशन, हाई ब्लड प्रेशर और इंफेक्शन जैसी बीमारियों को जन्म देती है। पानी की कमी से पाचन क्रिया भी प्रभावित होती है जिस कारण सिरदर्द और थकान की शिकायत होती है।

कई लोग ज्यादा एक्सरसाइज करते हैं मगर ज्यादा पानी नहीं पीते। जबकि उन्हें पानी का ज्यादा जरूरत होती है। एक्सरसाइज के दौरान शरीर से पसीने के द्वारा काफी पानी निकाल जाता है। ऐसे में शरीर को पानी की जरूरत ज्यादा होती है। जो महिलाएं प्रेगनेंट हैं या स्तनपान कराती हैं उनके शरीर को पानी की ज्यादा जरूरत होती है।

ऐसे में उन्हें ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए। कई लोग बुखार में मरीज को पानी नहीं देते। जबकि बुखार और डायरिया में शरीर को पानी की ज्यादा जरूरत पड़ती है। डायरिया में शरीर में पानी की कमी के कारण मरीज की हालत खराब हो सकती है। इसलिए थोड़ी-थोड़ी देर में उसे पानी देते रहना चाहिए। बुखार में शरीर का तापमान सही रखने के लिए पानी की जरूरत ज्यादा होती है।

त्वचा की खूबसूरती को बरकरार रखने के लिए पानी ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पिएं। पानी की कमी त्वचा को रूखा बनाती है। रूखी त्वचा पर झुर्रियां भी जल्द पड़ती हैं। इसलिए त्वचा में नमी के लिए पानी पीएं ताकि त्वचा चमकदार और जवां बनी रहे। शरीर में पानी की कमी मोटापा भी बढ़ाता है।

पर्याप्त पानी पीने से वजन भी नियंत्रित रहता है। आप चाहें तो डाइट से भी शरीर में पानी की कमी को पूरा कर सकते हैं। खाने में खीरा, तरबूज, खरबूज और दूसरे फल शामिल कर पानी की पूर्ति कर सकते हैं। सर्दियों के मौसम में कई तरह की हरी सब्जियां मिलती हैं जिससे शरीर को पानी मिलता है। खाने से पहले सूप लें और जूस भी शामिल करें, इससे भी पानी की कमी पूरी होती है। सफर या दूरदराज जाते वक्त हमेशा पानी की बोतल रखें। सर्दियों में पानी पीने से न कतराएं। ठंड की वजह से प्यास नहीं लग रही, तो इसका यह मतलब कि आप पानी पीयें ही नहीं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »