18 Jun 2019, 02:23:09 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Cricket

धोनी की मौजूदगी में ज्यादा बेहतर कप्तानी करते हैं विराट : अनिल कुंबले

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Mar 19 2019 3:57PM | Updated Date: Mar 19 2019 3:57PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान और कोच अनिल कुंबले ने कहा है कि महेंद्र सिंह धोनी की टीम में उपस्थिति मौजूदा कप्तान विराट कोहली को मैदान पर सही फैसले लेने में मददगार साबित होती है। भारतीय क्रिकेट टीम को हाल ही में ऑस्ट्रेलिया से पांच वनडे मैचों की सीरीज में 2-3 से शिकस्त झेलनी पड़ी थी, जबकि टीम का अगला बड़ा लक्ष्य 30 मई से ब्रिटेन में होने वाला आईसीसी वनडे विश्वकप है। हालांकि ऑस्ट्रेलिया के हाथों घरेलू सीरीज में हार के बाद भारतीय टीम की तैयारियों और विराट के फैसलों पर सवाल खड़े हो रहे हैं।
 
टीम इंडिया के मुख्य कोच रह चुके कुंबले ने एक वेबसाइट से कहा,विराट को धोनी की मैदान पर मौजूदगी से काफी मदद मिलती है और वह सही फैसले लेने में सहज रहते हैं क्योंकि धोनी के पास अपार अनुभव है। धोनी, विराट को सही फैसले लेने में भी मदद करते हैं। 
 
उन्होंने कहा - मैं कहूंगा कि विराट धोनी की मौजूदगी में ज्यादा बेहतर कप्तानी करते हैं। वह निश्चित ही धोनी के विकेट के पीछे खड़े रहने पर सहज महसूस करते हैं। दोनों के बीच लगातार बात होती रहती है और विराट अहम फैसले ले पाते हैं। दरअसल विश्वकप से पूर्व भारत की आखिरी वनडे सीरीज ऑस्ट्रेलिया से थी जिसमें धोनी आखिरी दो मैचों से बाहर रहे थे और खासकर कीपिंग में टीम का प्रदर्शन निराशाजनक रहा था। वर्ष 2014 में धोनी ने टेस्ट क्रिकेट और 2017 में वनडे की कप्तानी विराट को सौंप दी थी और इस वर्ष वह अपना आखिरी विश्वकप खेलने उतर रहे हैं। 
 
धोनी के नेतृत्व की प्रशंसा करते हुए पूर्व कप्तान ने कहा - धोनी लंबे समय तक टीम के कप्तान रहे और उनके पास अनुभव की कोई कमी नहीं है। वह विकेट के पीछे रहकर खेल को बेहतर समझते हैं। वह गेंदबाजों से लगातार बात करते रहते हैं। वह उन्हें गेंदों के बारे में बताते हैं। ऑस्ट्रेलिया से घरेलू वनडे सीरीज हारने पर कुंबले ने कहा, विराट काफी हद तक धोनी पर निर्भर दिखते हैं। धोनी वनडे में सही फील्ड तय करने में मदद करते हैं और उनकी अनुपस्थिति में गलतियां हुईं। आखिरी दो वनडे में फील्ड का चयन सही नहीं रहा। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »