20 Aug 2019, 05:02:14 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

मुकेश अंबानी से ज्यादा कमाते हैं उनके रिश्तेदार

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 21 2019 1:05AM | Updated Date: Jul 21 2019 1:05AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। भारत के सबसे अमीर कारोबारी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी के रिश्तेदारों की सैलरी उनसे ज्यादा है। अंबानी का सालाना सैलरी पैकेज लगातार 11वें साल 15 करोड़ रुपए के स्तर पर स्थिर है जबकि कंपनी के बोर्ड में मौजूद उनके रिश्तेदारों की सालाना सैलरी में इजाफा किया गया है। कंपनी से मिलने वाली अंबानी की वार्षिक परिलब्धियां वर्ष 2008-09 से स्थिर हैं। हालांकि‍ वेतन, भत्ते और कमीशन को मि‍लाकर उनकी सालाना सैलरी लगभग 24 करोड़ रुपए हो जाती है।

2009 से स्थिर है सैलरी- कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार ‘चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी की कुल परिलब्धियां वार्षिक 15 करोड़ रुपए के स्तर पर बरकरार रखी गई हैं। यह कंपनी में प्रबंधकीय स्तर की परिलब्धियों को संतुलित रखने के विषय में स्वयं एक उदाहरण प्रस्तुत करते रहने की उनकी इच्छा को दर्शाता है।’ मुकेश अंबानी के वित्त वर्ष 2018-19 की परिलब्धियों में 4.45 करोड़ रुपए वेतन एवं भत्ते के रूप में दिए गए। उनका वेतन एवं भत्ता 2017-18 में 4.49 करोड़ रुपए रहा था। अंबानी ने स्वेच्छा से अपनी परिलब्धियां स्थिर रखने की अक्टूबर 2009 में घोषणा की थी।

चचेरे भाइयों की सैलरी ज्यादा- रिलायंस इंडस्ट्रीज में अंबानी के सभी पूर्णकालिक निदेशकों के मानदेय में अच्छी वृद्धि दर्ज की गई है जिनमें उनके चचेरे भाई निखिल आर मेसवानी और हीतल आर मेसवानी भी हैं। निखिल और हीतल दोनों को 2018-19 में 20.57-20.57 करोड़ रुपए का पैकेज दिया गया। एक साल पहले इन दोनों में से प्रत्येक को 19.99 करोड़ रुपए मिले थे। इसी दौरान कंपनी के कार्यकारी निदेशक पी.एम.एस. प्रसाद का मानदेय 8.99 करोड़ रुपए से बढ़कर 10.01 करोड़ रुपए किया गया। इसी तरह कंपनी के तेल परिशोधन कारोबार के प्रमुख पवन कुमार कपिल का मानदेय भी 3.47 करोड़ रुपए से बढ़कर 4.17 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। कंपनी के पूर्णकालिक निदेशकों में अंबानी के अलावा निखिल, हीतल, प्रसाद और कपिल शामिल हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »