20 Aug 2019, 04:15:08 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

स्विस बैंक में धन जमा करने के मामले में ब्रिटेन पहले स्थान पर

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 1 2019 2:02AM | Updated Date: Jul 1 2019 2:02AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। स्विस बैंक में धन जमा करने वाले देशों की सूची में भारत दुनियाभर में 74वें पायदान पर है, जबकि ब्रिटेन ने इस सूची में अपना पहला स्थान बरकरार रखा है। स्विट्जरलैंड स्थित बैंक द्वारा जारी आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। पिछले साल भारत 15 पायदान की छलांग के साथ सूची में 73वें स्थान पर था। स्विस नैशनल बैंक (एसएनबी) द्वारा जारी सालाना बैंकिंग आंकड़ों के नवीनतम विश्लेषण के मुताबिक, जब बात स्विस बैंक में भारतीयों और भारतीय उपक्रमों द्वारा जमा कुल धन की आती है तो इसमें यह काफी पीछे है और इस बैंक में विदेशियों द्वारा जमा कुल धन का महज 0.07% है। जबकि, दूसरी तरफ इस बैंक में धन जमा करने के मामले में ब्रिटेन के लोग शीर्ष पर हैं और 2018 के अंत तक इस बैंक में जमा कुल 26% धन ब्रिटेन के लोगों का है।

स्विस बैंक में धन जमा करने वालों की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर अमेरिका, तीसरे स्थान पर वेस्ट इंडीज, चौथे स्थान पर फ्रांस तथा पांचवें स्थान पर हॉन्गकांग है। इस बैंक में जमा 50% से अधिक धन इन्हीं पांचों देशों के लोगों का है। बैंक में जमा लगभग दो तिहाई धन सूची में शामिल शीर्ष 10 देशों के लोगों का है। टॉप 10 देशों के अन्य देशों में बहामास, जर्मनी, लक्जमबर्ग, कायमान आइलैंड्स और सिंगापुर शामिल हैं।

  स्विस बैंक में जमा लगभग 75% धन सूची में शामिल शीर्ष 15 देशों के लोगों का है, जबकि 90% धन शीर्ष 30 में शामिल देशों के लोगों का है। स्विस बैंक में धन जमा करने के मामले में ब्रिक्स देशों में भारत सबसे पीछे है, जबकि रूस सबसे ऊपर (20वें स्थान पर), चीन 22वें स्थान पर, दक्षिण अफ्रीका 60वें स्थान पर तथा ब्राजील 65वें स्थान पर है। सूची में शामिल अन्य देशों में मॉरिशस (71), न्यू जीलैंड (59), फिलीपींस (54), वेनेजुएला (53), सेशेल्स (52), थाईलैंड (39), कनाडा (36), तुर्की (30), इजरायल (28), सऊदी अरब (21), पनामा (18), जापान (16), इटली (15), ऑस्ट्रेलिया (13), संयुक्त अरब अमीरात (12) तथा ग्वेर्नसे शामिल हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »