22 Sep 2019, 18:05:15 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State » Chhatisgarh

जल की जटिल समस्या से उबरने जलस्रोतों का संरक्षण जरूरी : नीलेश क्षीरसागर

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 25 2019 1:29PM | Updated Date: May 25 2019 1:29PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

पत्थलगांव। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले की 21 वीं वर्षगांठ के मौके पर आज कलेक्टर निलेश क्षीरसागर ने सभी प्रशासनिक अधिकारियों और नागरिकों के साथ जल स्रोतों के संरक्षण के लिए जशपुर में कचरे से पटे सती तालाब की साफ सफाई की। क्षीरसागर ने कहा कि मौजूदा दौर में भूजलस्तर में गिरावट की बेहद जटिल समस्या से उबरने के लिए जल स्रोतों का संरक्षण सबसे अहम कार्य बन गया है।
 
उन्होने कहा कि ऐसे कार्य जनसहभागिता से ही संभव हैं।जशपुर के प्रमुख सती तालाब में जलकुंभी और कचरे से पट जाने के बाद यह तालाब अनुपयोगी हो गया था।शनिवार को प्रात: सती तालाब में उतर कर कलेक्टर क्षीरसागर, पुलिस अधीक्षक शंकर लाल बघेल, वन मंडल अधिकारी कृष्णकुमार जाधव, सहायक आयुक्त सन्तोष वाहने, विधायक यूडी मिंज तथा अन्य प्रशासनिक अमले ने जब श्रमदान शुरू किया तो देखते ही देखते काम करने वालों की लम्बी कतार लग गई।
 
लगभग तीन घंटों की कड़ी मेहनत के बाद तालाब का कायाकल्प हो गया। जिला प्रशासन के प्रवक्ता ने बताया कि जशपुर में जल स्रोतों के संरक्षण के अभियान के तहत दर्जन भर पुराने कुएं, तिवारी नाला और पनचक्की डेम के जीर्णोद्धार के लिए जनसहभागिता से सराहनीय पहल हो चुकी है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »